All for Joomla All for Webmasters
RELATIONSHIP

10 साल बड़ी भाभी से हुई थी 15 साल के लड़के की जबरन शादी, सुबह दरवाजा खुला तो उड़ गये होश

devar-ne-ki-bhabhi-se-shadi
Devar ne ki bhabhi se shadi

हमारे देश में कई सारी गलत सही प्रथाएं प्रचलित है  जिनको हम ना चाहते हुए भी मानते है |इन्ही प्रथाओ में से एक प्रथा है चादर प्रथा और और चूड़ी प्रथा जो आज भी हमारे समाज में प्रचलित है| इस प्रथा में अगर घर में किसी लड़के की मौत हो जाती है तो उसकी पत्नी की उस लड़के के भाई के साथ शादी कर दी जाती है |वैसे आमतौर पर  तो इस प्रथा को एक आपसी समझौता कहा जाता है लेकिन यही समझौता तब गलत साबित हो जाता है जब दोनों तरफ रजामंदी नहीं होती है, और तब उनके परिवार वाले उन्हें जबरन उनकी शादी कर देते हैं. इसीलिए यदि इस प्रथा में दोनों पक्ष यानि की लड़का और लड़की राजी होते है तब तो यह प्रथा अच्छी मानी जाती है लेकिन अगर इनकी  आपसी रजामंदी नहीं होती है तब यह प्रथा भी उनके लिए  एक अभिशाप बन जाती है.|हाल ही में बिहार के पटना जिले में एक ऐसी ही घटना सामने आई है जिसमे एक 9 वी कक्षा में पढने वाले लड़के की शादी उसकी भाभी से करवा दी जाती है जिसके बाद उस लड़के ने जो किया वो जान कर आपके भी पैरों तले जमीन घिसक जाएगी| Devar ne ki bhabhi se shadi viral story.

कुछ यूँ की भाई की मौत के बाद उसके छोटे भाई के साथ उसकी भाभी की शादी की जा रही थी और उस लड़के से उसकी भाभी करीब 10 साल उम्र में बड़ी थी. ऐसे में लड़का इस शादी के लिए बिलकुल भी तैयार नहीं था और वो इसीलिए माना कर रहा था लेकिन फिर भी परिवार वाले जबरन उसकी शादी उससे उम्र में 10 साल बड़ी उसकी भाभी के साथ करवा दिए  मना कर रहा था पर घर वालों ने उसकी शादी जबरन उसकी भाभी से करवा दी गयी | ऐसे में लड़का क्या करता पर लड़के ने अंत तक मना किया पर कोई मान ही नहीं रहा था|

devar-ne-ki-bhabhi-se-shadi-viral-story

शादी हो जाने के बाद 9 वीं क्लास में पढने वाल महादेव दास  अपने ही घर से फरार हो गया क्योंकि उसे यह   शादी  करनी ही नहीं थी पर जब उसके घर वाले उसे ढूढने की कोशिश करने लगे तो वो कैसे भी कर के घर में आया और फिर अपने  घर के ही एक  खाली पड़े कमरे में जाकर अपने आप को फांसी लगा ली.इस तरह से  महादेव ने  इस शादी से बचने के लिए अपनी मौत को चुना और  उसकी मौत के जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि खुद उसके घरवाले बन गए|

क्या ऐसी शादी होनी चाहिए ?

वैसे तो इस सवाल का आपका जवाब हमे  पता है लेकिन फिर भी  आज भी  हमारे समाज में ऐसे कई  लोग है जो इस तरह की  शादी को सही मानते हैं. लेकिन हमारे विचार से इस तरह की शादी सिर्फ  तब तक सही होता है जब तक लड़का और लड़की दोनों की तरफ से ही  रजामंदी हो | हमारे हिसाब से तो  यदि किसी के साथ भी इस तरह की घटना हो तो उसे अपने अधिकार के लिए आवाज उठानी चाहिए ना की मौत को चुनना चाहिए यही सही है |

Source :

n

Most Popular News & Videos

To Top